Kawasaki india offering upto rs 60000 discount on selected bike range till 31st january 2024 know details about the offer – News18 हिंदी

Kawasaki india offering upto rs 60000 discount on selected bike range till 31st january 2024 know details about the offer – News18 हिंदी

हाइलाइट्स

कावासाकी की बाइक्स पर बंपर डिस्काउंट.
60,000 रुपये तक का फायदा उठा सकते हैं ग्राहक.
चुनिंदा बाइक्स पर वाउचर के जरिए मिलेगा ऑफर का लाभ.

नई दिल्ली. अगर आप एक प्रीमियम बाइक खरीदने की प्लानिंग कर रहे हैं तो हम आपके लिए एक खुशखबरी लाए हैं. दरअसल, प्रीमियम बाइक बनाने वाली बाइक निर्माता कावासाकी (Kawasaki) अपनी कुछ चुनिंदा मोटरसाइकिलों पर इस महीने शानदार डिस्काउंट दे रही है. कंपनी अपनी बाइक्स पर 60,000 रुपये तक के ऑफर्स दे रही है जो 31 जनवरी, 2024 तक लागू है. बता दें कि आखिरी दिन चूक जाने के बाद ग्राहकों को पुरानी कीमत पर ही बाइक खरीदनी पड़ेगी. आइये कावासाकी की बाइक्स पर डिस्काउंट के बारे में विस्तार से जानते हैं.

कावासाकी इंडिया अपने ग्राहकों को ‘गुड टाइम्स ‘वाउचर दे रही है जिसे बाइक की एक्स शोरूम कीमत पर रिडीम किया जा सकता है. इस वाउचर को रिडीम करने के बाद डिस्काउंट को बाइक की एक्स-शोरूम कीमत से कम कर दिया जाता है. यह वाउचर 31 जनवरी 2024 तक स्टॉक उपलब्ध रहने पर लागू है.

बाइक पर 60 हजार तक का डिस्काउंट
इस ऑफर के तहत कावासाकी निंजा 650 पर 30,000 रुपये, वुलकन एस मोटरसाइकिल पर 60,000 रुपये, वर्सिस 650 पर 20,000 रुपये और निंजा 400 पर 40,000 रुपये के डिस्काउंट का फायदा उठाया जा सकता है. अगर आप भी डिस्काउंट पर कावासाकी बाइक खरीदना चाहते हैं तो आपके पास 31 जनवरी तक का समय है.

लॉन्च की सबसे सस्ती बाइक
कावासाकी मोटरसाइकिल इंडिया ने पिछले महीने भारत में अपनी सबसे किफायती मोटरसाइकिल W175 अर्बन रेट्रो को लॉन्च किया. कंपनी की इस सबसे सस्ती बाइक की कीमत 1.22 लाख रुपये (एक्स-शोरूम) से शुरू होती है. यह अपने स्टैंडर्ड वर्जन से तकरीबन 12,000 रुपये किफायती है. यह कावासाकी की रेट्रो डिजाइन वाली बाइक है जिसमें अलॉय व्हील्स के साथ ट्यूबलेस टायर लगाए गए हैं. इस बाइक में 175cc का एयर कूल्ड इंजन मिलता है जो 12.8 बीएचपी की पॉवर और 13.2 एनएम का टॉर्क जनरेट करता है.

Tags: Auto News, Bike news, Bikes

Source link

post a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.