Earthquake News: भूकंप के तेज झटकों से कांपी इंडोनेशिया की धरती रिक्टर स्केल पर 6.7 दर्ज हुई तीव्रता

Earthquake News: भूकंप के तेज झटकों से कांपी इंडोनेशिया की धरती रिक्टर स्केल पर 6.7 दर्ज हुई तीव्रता

हाइलाइट्स

इंडोनेशिया के तलौद द्वीप पर आया भूकंप.
रिक्टर स्केल पर दर्ज हुई 6.7 की तीव्रता.
जान-माल के हानि की कोई जानकारी नहीं.

नई दिल्ली. राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी) ने बताया कि मंगलवार को इंडोनेशिया के तलौद द्वीप समूह में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए. रिक्टर स्केल पर भूकंप की त्रीवता 6.7 मापी गई है. हालांकि, अभी तक किसी प्रकार के जनहानि की सूचना नहीं मिली है. ये भूकंप के झटके 80 किलोमीटर की गहराई में महसूस किए गए हैं.

बता दें कि पिछले हफ्ते, गुरुवार को इंडोनेशिया के बलाई पुंगुट तकरीबन इतनी ही तीव्रता के भूकंप को मापा गया था. इस भूकंप की गहराई 221.7 किलोमीटर दर्ज की गई थी. इसमें भी किसी भी तरह के जानमाल के नुकसान की जानकारी सामने नहीं आई थी.

क्या है भूकंप की वजह?
आपको बता दें कि धरती कई तरह के प्लेट्स यानी लेयर में होती है. धरती 7 तरह की प्लेट्स से बनी है जिसमें लगातार हलचल होती रहती है. ये प्लेट्स एक दूसरे से टकराकर धर्षण पैदा करती हैं जिससे भारी उर्जा निकलती है. धर्षण से पैदा हुई उर्जा बाहर निकले का रास्ता ढूंढती रहती है जिससे सतह पर हलचल पैदा हो जाती है. इसी डिस्टर्बेंस के वजह से भूकंप आता है. इन प्लेटों के बीच टकराव जितना तेज होगा, भूकंप की तीव्रता भी उतनी अधिक होगी.

क्या होता है भूकंप का केंद्र?
भूकंप हमेशा धरती के नीचे किसी केंद्र से उत्पन्न होता है. यह केंद्र धरती के सतह से कई किलोमीटर नीचे होता है. हालांकि, केंद्र से पैदा हुई उर्जा सतह तक आते-आते कम हो जाती है जिसके चलते भूकंप का प्रभाव भी कम हो जाता है. फिर भी यदि रिक्टर स्केल पर तीव्रता 7.0 या इससे अधिक है तो केंद्र के 40 किलोमीटर के दायरे में तेज झटके महसूस होते हैं.

Source link

post a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.