सर्दियों में बच्चों की डाइट में शामिल करें गाजर, शरीर को मिलेंगे कई जबरदस्त फायदे

सर्दियों में बच्चों की डाइट में शामिल करें गाजर, शरीर को मिलेंगे कई जबरदस्त फायदे

Benefits Of Feeding Carrots To Children In Winter: सर्दी में बड़ों के साथ बच्चों के शरीर को भी अतिरिक्त देखभाल की जरूरत होती है। इस समय बच्चों को आसानी से सर्दी, खांसी और जुकाम की समस्या होती रहती हैं। ऐसे में बार-बार दवाईयां लेने में बच्चे आनाकानी करते हैं। साथ ही बच्चे पोषक तत्वों से भरपूर खाने में भी आनाकानी करते हैं, जिससे उनके शरीर में कमजोरी के साथ खून की कमी भी हो जाती हैं। सर्दी में बाजार में कई तरह की सब्जियां मिलती हैं, जो शरीर के लिए फायदेमंद होने के साथ बच्चे के शरीर को हेल्दी रखने में मदद करती हैं। सर्दी में बच्चों को स्वस्थ रखने और उनके शरीर की कमजोरी को दूर करने के लिए गाजर का सेवन कराया जा सकता है। गाजर पोषक तत्वों से भरपूर होती है, इसमें सोडियम, पोटेशियम, आयरन, प्रोटीन, फाइबर, फोलेट, विटामिन ए और सी पाया जाता है। इसके सेवन से बच्चों के शरीर को ताकत मिलने के साथ आंखें भी लंबे समय तक हेल्दी रहती हैं। आइए जानते हैं फिट क्लीनिक की डाइटिशियन सुमन से सर्दियों में बच्चों को गाजर खिलाने के अन्य फायदं के बारे में।

इम्यूनिटी को बनाए मजबूत

सर्दी में बच्चों को बहुत जल्दी सर्दी-खांसी की समस्या हो जाती है। ऐसे में उनकी डाइट में गाजर शामिल करने से मौसमी बीमारियों का खतरा कम होता है। गाजर में विटामिन सी पाया जाता है, जो संक्रमण को दूर करने के साथ बच्चों को बीमार उन्हें से बचाता है।

आंखों के लिए फायदेमंद

आज के समय में बच्चे मोबाइल और लैपटॉप देखते हैं, जिस कारण कम उम्र में बच्चों की आंखे कमजोर हो जाती हैं। गाजर में मौजूद बीटा-कैरोटिन और विटामिन ए आंखों की रोशनी को बढ़ाने के साथ आंखों को हेल्दी रखता है। इसके सेवन से आंख संबंधी बीमारियां होने का खतरा कम होता हैं।

दांतों को रखें हेल्दी

सर्दी में बच्चों को गाजर खिलाने से मसूड़ों और दांतों के प्लाक को साफ करने में मदद करता हैं। बच्चों के दांत में कई बार कैविटीज की समस्या हो जाती है। ऐसे में गाजर के सेवन से कैविटीज की समस्याओं से बचाव होने के साथ मुंह की दुर्गंध भी दूर होती हैं। गाजर में मौजूद कैल्शियम और अन्य खनिज बैक्टीरियां से लड़ते हैं और दांतों को स्वस्थ और साफ रखते हैं।

याददाश्त में सुधार लाता है

बच्चों का डाइट में नियमित गाजर शामिल करने से याददाशत में सुधार होता है और यह मेमोरी को भी बढ़ाता है। इसके सेवन से बच्चों की लर्निंग पावर बढ़ती है। इसके सेवन से मस्तिष्क की सूजन दूर होती है और इससे जुड़ी समस्याएं दूर होती हैं।

पाचन-तंत्र के लिए फायदेमंद

गाजर में उच्च मात्रा में फाइबर होता है, जो बच्चों के पेट की कब्ज को आसानी से दूर करता है। कई बार बच्चों के पेट में कब्ज की समस्या हो जाती है। ऐसे में इसके सेवन से कब्ज से राहत मिलने के साथ मल त्याग को आसान बनाता है। गाजर खाने से पेट की अन्य समस्याओं से बचाव होता है।

गाजर को डाइट में शामिल करने के तरीके

बच्चों को गाजर खिलाने के लिए इसका जूस, कद्दूकस करके चीला और रोटी में मिलाकर खिलाया जा सकता हैं।

गाजर शरीर के लिए फायदेमंद होती है। हालांकि, अगर बच्चों को कोई बीमारी या एलर्जी की समस्या हैं, तो डॉक्टर से पूछकर ही इसका सेवन करें।

post a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.